Opening Hours

Tuesday - Sunday - 10AM-8PM

What is Threading

वेलकम –

What is Threading
What is Threading

ग्लैमर फील में आपका स्वागत है ! आज हम जानेगे कि What is Threading थ्रेडिंग क्या है। थ्रेडिंग एक तरह कि स्टाइल्स फैशन है ! थ्रेडिंग में बालो को हटाने कि एक तरह कि प्रक्रिया है, जिसका उपयोग ज्यादातर होठ के ऊपर तथा निचले हिस्सों, आइब्रोज, लिप्स चीक्स ( गालों ) और चीन ( ठुडडी ) के बालो को हटाने के लिए उपयोग किया जाता है !

Threading ( थ्रेडिंग ) का नाम एक कॉटन थ्रेड से लिया गया है. जिसे मोड़कर बालो को खींचकर जड़सहित बाहर निकाला जाता है। इसे ” टाइग ( tying ) ” या अरेबिक में ( khite ) के नाम से जाना जाता है ! और ये एक बहुत पुरानी इंडियन मेथड है, जो आज काफी पॉपुलर हो चुकी है !

हर महिला अपनी खूबसूरती निखारना चाहती है ! इसके लिए व महंगे से महंगा ट्रीटमेंट करवाती है, कभी फेशियल, कभी क्लीनअप और भी बहुत कुछ। इन ब्यूटी ट्रीटमेंट में से एक ट्रटमेंट है, थ्रेडिंग, जो अधिकतर हर महिला करवाती है ! हर ब्यूटी पार्लर में ये ट्रीटमेंट आसानी से मिल जाता है, और यह ज्यादा महंगा भी नही होता है। बल्कि बड़े शहरो में Threading ( थ्रेडिंग ) ट्रीटमेंट के चार्जेस में अंतर हो सकता है, फिर भी ये ऐसा ट्रीटमेंट है जो हर महिला के बजट में है। यही वजह है कि दो हफ्ते में महिलाएं थ्रेडिंग जरूर कराती हैं।

Threading Has No side effects ( थ्रेडिंग का कोई साइड इफेक्ट्स नहीं )

थ्रेडिंग ( threading ) एक ऐसा हेयर रिमूवल ट्रीटमेंट है ! जिसका कोई भी साइड इफेक्ट नहीं होता है ! आजकल लोग थ्रेडिंग के आलावा वैक्सिंग भी करने लगे है. सैलून या ब्यूटी पार्लर में बहुत तरह के वैक्स ट्रीटमेंट किये जाते है ! वैक्स में कई हानिकारक केमिकल्स पाए जाते है, जिसमे रेजिन, कार्सिनोजेनिक पैराबन्स, आर्टिफिशियल फ्रेंगनेंसिस और खतरनाक डाई मौजूद रहती हैं। जो स्किन के लिए ये काफी नुकसानदायक होता है. इससे कई बार केमिकल्स बर्न और स्किन डैमेज होने की समस्या पैदा हो सकती है ! जबकि Threading ( थ्रेडिंग ) में कॉटन के धागे का उपयोग किया जाता है। जिसका कोई भी साइड इफ़ेक्ट नहीं होता है

Threading is Harmful ( थ्रेडिंग नुकसानदायक है! )

भले ही थ्रेडिंग वैक्सिंग से अच्छा हो। लेकिन ये सच है. कि थ्रेडिंग वैक्सिंग कि अपेक्षा ज्यादा दर्दनाक होती है ! थ्रेडिंग अपरलिप, आईब्रो और फोरहेड कि होती है. लेकिन आजकल महिलाए फैशन तौर पर फूल फेस थ्रेडिंग कराने लगी है ! डॉक्टर की मानो तो ये ज्यादा खतरनाक है. पुरे चेहरे कि थ्रेडिंग ज्यादा दर्दनाक साबित हो सकती है !

Threading is better than waxing ( थ्रेडिंग वैक्सिंग से ज्यादा अच्छा है )

Threading is better than waxing
Threading is better than waxing

आज के जमाने में महिलाएं बॉडी से अनवॉन्टेड हेयर रिमूव करने के लिए थ्रेडिंग के अलावा वैक्सिंग ट्रीटमेंट लेती हैं। दोनों में ज्यादा कुछ अंतर नहीं है। थ्रेडिंग में जहां धागे की मदद से एक्सपर्ट अनचाहे बालों की छंटाई करते हैं, वहीं वैक्सिंग में वैक्स की मदद से बालों को हटाया जाता है। लेकिन अब सवाल ये है कि दोनों में से बेहतर क्या है। थ्रेडिंग या वैक्सिंग। विशेषज्ञों के अनुसार थ्रेडिंग वैक्सिंग से ज्यादा बेस्ट ऑप्शन है। इसमें खर्चे के साथ पेन भी कम होता है। साथ ही ये किसी भी स्किन पर आराम से सूट होता है।

थ्रेडिंग के बारे में विस्तार से जाने के लिए तथा थ्रेडिंग का उपयोग कैसे करे इन सबके बारे जानने के लिए क्लिक करे थ्रेडिंग

Note – आपको पता चल गया होगा कि थ्रेडिंग ( threading ) क्या है ! थ्रेडिंग का उपयोग कैसे कर सकता है ! अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी तो इसे सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करे Thanks for reading

Read more

लेडीज सैलून सर्विस लिस्ट

बायोग्राफी

Thanks for reading —

Recommended Articles

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow Me!